सर्वनाम (Pronoun)

सर्वनाम (Pronoun)

परिभाषा:- संज्ञा के स्थान पर प्रयुक्त होने वाले शब्दों को सर्वनाम कहते हैं। जैसे- मैं, तुम, हम, वे, आप आदि।

सर्वनाम के 6 भेद हैं।

  1. पुरुषवाचक
  2. निश्चयवाचक
  3. अनिश्चयवाचक
  4. संबंधवाचक
  5. प्रश्नवाचक
  6. निजवाचक

 

1. पुरुषवाचक सर्वनाम:- जो शब्द किसी पुरुष के नाम के बदले प्रयुक्त हो या बोलने, सुनने या जिसके बारे में कुछ कहा जाए इनका बोध कराये तो पुरुषवाचक सर्वनाम होता है। ये 3 प्रकार के होते हैं।

  • उत्तम पुरुष:- मैं, हम, मेरा, हमारा, हमें
  • मध्यम पुरुष:- तुम, आप, आपका, तू, तुम्हारा
  • अन्य पुरुष:- वह, उसे, उसका, उनका, उनसे, उन्हें, उसको

 

2. निश्चयवाचक सर्वनाम:- जो शब्द पास या दूर की वस्तु का निश्चयात्मक बोध कराते हों उन्हें निश्चयवाचक सर्वनाम कहते हैं। जैसे:- यह , वह, ये , वे

  • यह यहाँ से हटा दो।
  • वे तुम्हारे आदमी हैं।

 

3. अनिश्चयवाचक सर्वनाम:- किसी अनिश्चित पदार्थ, प्राणी या वस्तु के बदले प्रयुक्त सर्वनाम को अनिश्चयवाचक सर्वनाम कहते हैं। जैसे:-

  • कोई आया है।
  • दाल में कुछ काला है।

उदाहरण- कुछ न कुछ, हर कोई, कोई न कोई, कुछ भी, सब कुछ, कुछ-कुछ

 

4 प्रश्नवाचक सर्वनाम:- प्रश्न करने के लिए प्रयोग में लाए गए सर्वनाम प्रश्नवाचक सर्वनाम कहलाते हैं। जैसे:-

  • कौन आया है?
  • वह क्या कह रहा है?
  • दूध में क्या गिरा?

 

5. संबंधवाचक सर्वनाम:- वे सर्वनाम शब्द जो दो सर्वनाम में परस्पर संबंध का बोध कराते हैं जैसे:-

  • जो परिश्रम करता है वो सफल होता है।
  • जैसी करनी वैसी भरनी।

 

6. निजवाचक सर्वनाम:- जो सर्वनाम शब्द कत्र्ता स्वयं अपने लिए प्रयोग करे। जैसे:-

  • यह काम मैं स्वयं करूँगा।
  • वह औरों को नहीं अपने को सुधार रहा है।
Please Share